टी20 विश्व कप 2022 में भारत को साउथ अफ्रीका के खिलाफ 30 अक्टूबर को खेले गए मुकाबले में भारतीय टीम को पहली हार का सामना करना पड़ा है. इस मैच में भारत की तरफ से कुछ ऐसे अहम मौके देखें गए.

जिसको गवाकर भारतीय टीम को हार का मुंह देखना पड़ा ऐसे में आज हम आपको इस लेख साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारत की हार के 2 बड़े कारण बताने वाले है. तो चलिए दोस्तों जानते है इसके बारे में अच्छे से.

पहला कारण

साउथ अफ्रीका की टीम 134 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही थी. इसी दौरान भारत की तरफ से 12वां ओवर स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को दिया. उस समय अफ्रीका टीम की तरफ से क्रीज पर एडेन मार्करम 30 और डेविड मिलर 10 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे. उस ओवर में मार्करम ने अश्विन की गेंद को उठाकर 6 रन के लिए भेजना चाहते थे.

लेकिन सही टाइमिंग नही होने के कारण गेंद हवा में चली गई. परंतु विराट कोहली के पास कैच लेने का बहुत बड़ा मौका था. लेकिन कोहली ने विकेट लेने का मौका हाथ से गवा दिया. इसके चलते भारत की हर का यह सबसे बड़ा कारण रहा.

दूसरा कारण

भारतीय टीम की हर का दूसरा सबसे बड़ा कारण बना मार्करम को रन आउट का मौका गवाना. दरसन भारत की तरफ से 13वाँ ओवर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को दिया गया. इस ओवर की पाँचवी गेंद पर डेविड मिलर ने हल्के हाथ से खेलकर एक रन के लिए दौड़ पड़े, दूसरी और साइड कवर की और खड़े रोहित शर्मा ने उस गेंद को जल्दी से पकड़ कर गेंद स्टम्प पर मारी दी, गेंद बिना स्टंप को छुते हुए निकल गई और एक बार फिर मार्करम को जीवनदान मिल गया.

T20 World Cup: क्रिस गेल को पछाड़ते हुए विराट कोहली ने टी20 वर्ल्ड कप में रचा इतिहास

रोहित ने जिस टाइम थ्रो किया था उस समय मार्करम क्रीज से बहुत ज्यादा दूर थे. रोहित शर्मा चाहतें तो वो दौड़ कर भी मार्करम को आउट कर सकते थे. लेकिन रोहित ने ऐसा नही किया और भारत की हर का यह दूसरा सबसे बड़ा कारण बना.

आशा करता हूँ दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई भारत की हार के दो मुख्य कारण के बारे में अच्छे से जानकारी मिल गई होगी. इसके बारे में आपका क्या कहना है अप भी अपनी रात कमेंट में जरुर दे.

I am working in news field since 2015. I done Masters in Journalism (MJMC) from Uttar Pradesh Rajarshi tandon open University, I am on the True Guess team as a Sub-Editor/Journalist.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *