IND vs ENG Test: एजबेस्टन के मैदान में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे 5वे टेस्ट मैच टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ उसी के घर पर एक बार फिर इतिहास रच दिया है. टीम इद्निया के धाकड़ बल्लेबाज ने इंग्लैंड के खिलाफ 89 गेंदों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए स्टाक लगाकर टीम इंडिया को मुश्किल स्थिति से बाहर निकाला है.

Also Read – चयनकर्ता ने फिर किया इस खिलाड़ी के साथ अन्याय, नाखुस फैंस बोले तुम संन्यास ले लो.

एक समय ऐसा लग रहा था की भारतीय टीम पहले ही दिन पूरी की पूरी टीम पवेलियन लौट जाएगी. क्योकि भारत 98 रन पर अपने 5 महत्वपूर्ण विकेट खो चूका था. परंतु इसके बाद पंत और रवींद्र जडेजा ने छठे विकेट के लिए 222 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी की और भारतीय टीम को मुश्किल स्थिति से बाहर निकाला.

Also Read – वनडे और टी20 के लिए भारतीय टीम का एलान, इंग्लैंड के खिलाफ इन खिलाड़ियों की हुई वापसी

पंत ने तोड़ा धोनी का 17 साल पुराना रिकॉर्ड

जब भी भारतीय टीम में विकेटकीपर बल्लेबाज की बात होती थी तो उसमे सबसे पहले धोनी का नाम शामिल होता था. लेकिन अब उनकी जगह लेने के लिए ऋषभ पंत हर मुमकिन कोशिश कर रहे है. जानकारी के मुताबिक आपको बता दूँ की भारतीय टीम में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी के नाम था. जो आज से 17 साल पहले 2005 में पाकिस्तान के खिलाफ खेलते हुए 93 गेंदों में तूफानी बल्लेबाजी करते हुए धोनी ने अपने नाम किया था. लेकिन पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ 5वे टेस्ट मैच में 89 गेंदों पर शतक लगाकर धोनी के 17 साल पुराने रिकॉर्ड तोड़कर भारतीय टीम में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज सबसे तेज शतक लगाने वाले खिलाड़ी बन गए है.

Also Read

टी20 वर्ल्ड कप के बाद भारत के न्यूजीलैंड दौरे का ऐलान, खेले जाएंगे इतने टी20 और वनडे मैच

दीपक हुड्डा और संजू सैमसन ने केएल राहुल और रोहित शर्मा के इस खास रिकॉर्ड को तोड़कर रचा इतिहास

आपके हिसाब से आने वाले समय में कौन सा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत का टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर सकता है. इसके बारे में आपके क्या विचार है हमे कमेंट में जरुर बताए. अगर आपको यह लेख पसंद आया तो इसको ज्यादा से ज्यादा शेयर करे.

I am Founder of Trueguess.com. I am Capable to run Online Business and Now running Trueguess.com as Senior Editor.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *