भारत और वेस्टइंडीज के बीच चल रही 5 मैचो की टी20 का भारतीय टीम ने जीत के साथ आगाज किया है. भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 190 रन बनाए और वेस्टइंडीज के सामने 191 रनों का लक्ष्य रखा. लेकन वेस्टइंडीज की टीम 20 ओवर में मात्र 122 रन ही बना पाए और टीम इंडिया ने पहला टी20 मुकाबला 68 रनों से अपमे नाम कर लिया.

Also Read – कोहली पर दबाव बनाने को लेकर पूर्व भारतीय टीम के चयनकर्ता सबा करीम ने दिया बड़ा बयान

टीम इंडिया की जीत का सबसे बड़ा हीरो रहे दिनेश कार्तिक जिसने 2 छक्के और 4 चौको की मदद से 41 रनों नाबाद तूफानी पारी खेली. लेकिन इस जीत के बाद भी भारतीय टीम के पूर्व कप्तान कृष्णमाचारी श्रीकांत ने नाराज देखें.

कृष्णमाचारी श्रीकांत हुए राहुल द्रविड़ और रोहित शर्मा से नाराज

भले ही भारतीय टीम ने पहले टी20 मैच में शानदार प्रदर्शन क्र मैच को अपने नाम करने में कामयाबी हासिल कर ली है. लेकिन भारतीय टीम के पूर्व कप्तान कृष्णमाचारी श्रीकांत ने प्लेइंग-11 को लकार सवाल खड़ा किया है.

Also Read – सचिन तेंदुलकर को लेकर रवि शास्त्री का बड़ा बयान, सचिन में जो कीड़ा था वो आज के खिलाड़ियों में नहीं

जिस प्रकार से पहले टी20 में भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान रोहित शर्मा ने प्लेइंग-11 उससे कृष्णमाचारी श्रीकांत काफी ज्यादा नाराज है. क्योकि श्रीकांत ने दीपक हुड्डा को लेकर कहा की जो खिलाड़ी अच्छी फॉर्म में चल रहा है, जो बल्ले और गेंदबाजी दोनों से टीम इद्निया के लिए बेस्ट प्रदर्शन कर सकता है. उस खिलाड़ी को टीम से बाहर बैठाया गया.

प्रज्ञान ओझा और श्रीकांत के बीच अहम बात

श्रीकांत और पूर्व भारतीय क्रिकेटर प्रज्ञान ओझा आपस में फैन कोड पर बात करते हुए खा की मुझें दीपक हुड्डा टीम में दिखाई नही दे रहे है. इसके बाद भारतीय टीम के कोच और कप्तान को लताड़ते हुए कहा की जो खिलाड़ी टी20 और वनडे में बेहतरीन प्रदर्शन कर रहा है. उस खिलाड़ी को टीम में खेलने का मौका नही मिल रहा है. क्योकि टी20 फोर्मेट एक ऐसा खेल है जिसमे आपको ज्यादा से ज्यादा ऑलराउंडर्स खिलाड़ी टीम में रखने होते है जो बल्ले और गेंद दोनों से टीम को योगदान दे सकें.

Also Read – क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले के ट्वीट पर ट्विटर यूजर ने दिया करारा जवाब, कहा- ये जीत भी क्या जीत है

ओझा और श्रीकांत के बीच नोकझोक

प्रज्ञान ओझा ने राहुल द्रविड़ की साइड लेते हुए कहा की राहुल भाई पहले उसी खिलाड़ी को ज्यादा मौके देते है जो फिलहाल अच्छी फॉर्म में चल रहे है. इसके बाद किसी खिलाड़ी को टीम में मौका देने में विचार करते है. लेकिन ओझा की यह बता श्रीकांत को चूब गई और राहुल के बारे में कहा की राहुल द्रविड़ की सोच मेरे को नहीं चाहिए.

इसके बारे में आपका क्या कहना है इसका जबाव आप भी दो. परंतु इसके बाद ओझा हँसते हुए श्रीकांत के सवाल का जबाव दिया की वाक्य में ही दीपक हुड्डा को कप्तान और कोच को टीम में शामिल शामिल करना चाहिए था.

Also Read – शिखर धवन ने भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी को पीछे छोड़ वेस्टइंडीज के खिलाफ रचा इतिहास

उम्मीद करता हूँ दोस्तों आपको हमारे द्वारा गई यह खास जानकारी बहुत ज्यादा पसंद आई होगी. क्या आप भी है पूर्व कप्तान कृष्णमाचारी श्रीकांत के बात से सहमत. आपको भी लगता है की दीपक हुड्डा को टीम में शामी लर्न चाहिए. इसके बारे में आपके क्या विचार है हमारे साथ जरुर सांझा करे. अगर आपको यह लेख पसंद या तो इसको ज्यादा से ज्यादा अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे.

I am Founder of Trueguess.com. I am Capable to run Online Business and Now running Trueguess.com as Senior Editor.

Join the Conversation

3 Comments

  1. ये srikant ji आप dravid नही है आप के कहने सोचने से कुछ
    नही होगा , सामने आपके cricket का महाकाव्य है,,,आप एक चैप्टर में भी नही आते,,,

  2. श्रीकांत की सोच सही है। ये अपने जमाने मे T20 स्टाइल से ही वन डे क्रिकेट खेलते थे।
    कभी पंत से शुरुआत कराते है तो फिर सूर्या से । द्रविड़ बैटिंग कोच हो सकते है पर स्ट्रेटजी कोच लायक नही।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *