भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और माही के नाम से अपनी पहचाने बनाने वाले महेंद्र सिंह धोनी सभी क्रिकेट खिलाड़ियों में पहली पसंद है. क्योकि इस खिलाड़ी ने मैदान में अपने बल्ले और शांत संभाव के कर्ण सभी दर्शको का दिल जीता है. इसके साथ ही टीम भारतीय टीम के धोनी ही ऐसे खिलाड़ी है जिन्होंने टी 20 वर्ल्डकप वनडे वर्ल्डकप और ICC चैंपियनशिप का खिताब जीतने का रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किया है.

Also Read – IPL 2023 में CSK की तरफ से जडेजा के खेलने को लेकर धोनी ने दिया बड़ा ब्यान

कहा जाता है की धोनी खेल और इंसानियत के लिए बहुत बड़ा उधारण है. तभी तो क्रिकेट दर्शक उन्हें खेल का सबसे बड़ा खिलाड़ी मानते है. MS Dhoni ने अपनी जिदगी में बहुत उतार-चढ़ाव देखे. लेकिन इंसानियत को अपने अंदर जिंदा रखा. आज हम आपको एमएस धोनी की दरयादिली को लेकर एक ऐसी सची घटना के बारे में बताने वाले है. जिसे जानकर आप भी इस महान खिलाड़ी के फैन होने पर गर्व महसूस करेगे.

Also Read – IPL इतिहास में सबसे ज्यादा मैन ऑफ द मैच जीतने वाले भारतीय खिलाड़ी, जानिए रोहित का स्थान

वैसे आप सभी जानते ही है की धोनी अपने बल्ले से लम्बें-लम्बें छक्के लगाने के लिए जाने जाते है. लेकिन धोनी ने वर्ल्डकप में भारत को चैंपियन बनाने में जिस शॉट का प्रयोग किया था उस शॉट को हेलीकॉप्टर शॉट का नाम दिया गया. क्या आप जानते MS Dhoni हेलीकॉप्टर शॉट किससे सिखा. तो जानाकरी के मताबिक आपको बता दूँ की धोनी ने यह शॉट बचपन के प्रिय मित्र संतोष लाल से सिखा था. इसके बाद एमएस धोनी का हेलीकॉप्टर शॉट एक ट्रेंड बन गया. इस हेलीकॉप्टर शॉट का जीकर धोनी के उपर बनी फिल्म MS धोनी- द अनटोल्ड स्टोरी में भी किया गया है.

Also Read – आईपीएल में सबसे ज्यादा प्लेयर ऑफ द मैच जीतने वाले Top-5 भारतीय खिलाड़ी, जानिए धोनी का स्थान

एमएस धोनी साल 2013 को अपनी जिंदगी का सबसे खराब साल बताते है. क्योकि साल 2013 में धोनी का अपने प्रिय दोस्त संतोष लाल इस दुनिया को छोड़कर चला गया था. क्योकि संतोष लाल एक बहुत ही गंभीर बिमारी से झुझ रहे थे. जब यह बात धोनी को पता चली की उनका जिगरी दोस्त जिंदगी और मौत के बीच झुझ रहा है तो अपने दोस्तों को इस गंभीर बीमारी से बचाने के लिए दिल्ली एम्स के मशहूर अस्पताल में हर सुविधा का इतजाम किया गया और दोस्त को बचाने के लिए हर संभव प्रयास किए. धोनी के द्वारा इतना कुछ करने के बाद भी अपने जिगरी दोस्त संतोष लाल को बचा नही पाए. क्योकि खुदा को कुछ और ही मंजूर था.

Also Read – प्रशंसकों का दावा: एमएस धोनी ने किया इन 5 भारतीय खिलाड़ियों का करियर खत्म

जानकारी के मुताबिक आपको बता दूँ की बताया गया की धोनी के प्रिय दोस्त संतोष लाल को पेनक्रियाज में इन्फेक्शन था. जोकि पुरे शरीर में फैल चूका था और डॉक्टर के कण्ट्रोल से बहार हो चूका था. लेकिन फिर भी संतोष लाल को बचने के लिए बहुत प्रयास किए गए परंतु उनको डॉक्टरो की टीम बचाने में कामयाब नही हो पाई और साल 2013 में धोनी ने अपने जिगरी दोस्त को खो दिया.

I have full dedication to write content on cricket analysis.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *